Home Tags Rahul Gandhi

Tag: Rahul Gandhi

केसीआर सरकार से पीड़ित हैं तेलंगाना के लोग : राहुल

People of Telangana are suffering from KCR government: Rahul
People of Telangana are suffering from KCR government: Rahul

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को तेलंगाना के मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव पर आरोप लगाया कि उनके शासन और प्रशासन से प्रदेश की जनता पीड़ित है।

श्री गांधी ने आज निज़ामाबाद जिले के बोधन में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राज्य में भूमि, रेत और शराब माफिया से संबंधित गतिविधियों में वृद्धि का उल्लेख किया। उन्होंने केंद्र की नरेंद्र मोदी नीत सरकार के साथ मुख्यमंत्री के करीबी संबंधों की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए प्रदेश में जनता की सरकार की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने कालेश्वरम परियोजना में एक लाख करोड़ के घोटाले का भी आरोप लगाया।

उन्होंने हैदराबाद के विकास में कांग्रेस पार्टी के ऐतिहासिक योगदान का उल्लेख करते हुए चेतावनी दी कि यदि श्री राव की पार्टी सत्ता बरकरार रखती है तो भूमि पर संभावित कब्ज़ा हो सकता है। उन्होंने राज्य में जनता की सरकार बनाने का वादा करते कहा कि कांग्रेस ने सत्ता में आने पर पहली कैबिनेट बैठक में लागू की जाने वाली छह गारंटियों की रूपरेखा तैयार की है। उन्होंने श्री राव पर केंद्र की भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाली सरकार कर ओर से लाये गये हर विधेयक का समर्थन करने का आरोप लगाया।

श्री गांधी ने राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा को हराने की प्रतिबद्धता जताते हुए श्री राव की भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) को भी सत्ता से हटाने का आह्वान किया।

Also Read: मोदी ने भरी तेजस में उड़ान , बोले..आत्मनिर्भरता के क्षेत्र में किसी से कम नहीं है भारत

राहुल का बयान देशद्रोह की सीमा में आता है : शिवराज

Rahul's statement borders on treason: Shivraj
Rahul's statement borders on treason: Shivraj

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दिया गया बयान देशद्रोह की सीमा में आता है।

राजस्थान चुनाव प्रचार के सिलसिले में जयपुर आए श्री चौहान ने संवाददाताओं से चर्चा में कहा कि श्री गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरोध में इतने भरे हुए हैं कि देश की हार पर प्रसन्नता व्यक्त कर रहे हैं। जब सारे देश की आंखों में आंसू थे और राहुल गांधी आनंद मना रहे थे। उनका प्रधानमंत्री पर दिया बयान देशद्रोह की सीमा में भी आता है। बुद्धि हीनता का इससे बड़ा उदाहरण कोई नहीं हो सकता।

उन्होंने कहा कि देश की जनता उन्हें इसका जवाब देगी। राहुल गांधी अपने ऐसे बयानों से कांग्रेस को समाप्त करके ही मानेंगे।

श्री चौहान ने राहुल गंधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी दोनों पर निशाना साधते हुए कहा कि दोनों भाई और बहन झूठ बोलने की मशीन हैं। प्रियंका मध्यप्रदेश में कह रहीं थीं कि राम 13 साल के लिए वनवास गए थे। भारत का बच्चा-बच्चा जानता है कितने साल के लिए गए थे।

उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी प्रदेश में कहती हैं कि मध्यप्रदेश में 21 लोगों को ही रोजगार मिला है जबकि 50 हज़ार को नियुक्ति पत्र उन्होंने (स्वयं श्री चौहान ने) अपने हाथ से बांटे हैं। राजस्थान में झूठ का पुलिंदा परोसने की कोशिश कर रहे हैं।

Also Read: बॉबी देओल को अपना स्टाइल आइकन मानते हैं रणबीर कपूर

राहुल ने किया देश की समस्त जनता का अपमान : शर्मा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने पर भारतीय जनता पार्टी की मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष और लोकसभा सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने आज कहा कि उन्होंने देश की समस्त जनता का अपमान किया है।

श्री शर्मा ने कल देर रात यहां भाजपा की बैठक के बाद संवाददाताओं से चर्चा के दौरान कहा कि श्री गांधी ने प्रधानमंत्री के लिए जो शब्दों का प्रयोग किया, उससे वह अपनी ‘मंदबुद्धि’ सामने लाये हैं। उन्होंने देश की 130 करोड़ जनता का अपमान किया है। देश में कांग्रेस नेस्तनाबूद हो रही है।

श्री शर्मा ने राज्य के छतरपुर जिले में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पर आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज होने पर कहा कि कानून क्या उनकी जेब में है। क्या दिग्विजय सिंह कानून का पालन नहीं करेंगे।

उन्होंने कहा कि श्री सिंह ने लोगों को भड़काया, उन पर तो और धाराएं लगाई जानी चाहिए।

उन्होंने सवाल उठाया कि प्रशासन ने उन्हें धरना कैसे देने दिया।

राज्य के छतरपुर के खजुराहो में कल पूर्व मुख्यमंत्री श्री सिंह के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज हुआ है। इसके साथ ही राजनगर से कांग्रेस प्रत्याशी विक्रम सिंह नाती राजा पर भी मामला दर्ज हुआ है।

दोनों नेताओं ने मतदान 17 नवंबर के दिन विक्रम सिंह नातीराजा के समर्थक सलमान खान की मृत्यु के बाद इस मामले को लेकर बिना अनुमति के थाने के सामने धरना दिया था।

इस पूरे मामले को लेकर राज्य में इन दिनों राजनीति जोरों पर है। कांग्रेस का आरोप है कि सलमान की मृत्यु के लिए भाजपा प्रत्याशी अरविंद पटेरिया जिम्मेदार है। इस प्रकरण में अरविंद पटेरिया के खिलाफ भी मामला दर्ज हो चुका है।

Also Read: 22 नवंबर को मद्रास राज्य का नाम बदलकर तमिलनाडु करने के प्रस्ताव को लोकसभा से स्वीकृति मिली

मेरे जातिगत जनगणना की बात करते ही मोदी के दिमाग से जाति गायब हुई : राहुल

Caste disappeared from Modi's mind as soon as he talked about my caste census: Rahul
Caste disappeared from Modi's mind as soon as he talked about my caste census: Rahul

कांग्रेस सांसद और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘देश में गरीब ही एकमात्र जाति’ होने वाले बयान पर हमला बोलते हुए आज कहा कि उन्होंने (श्री गांधी ने) जैसे ही जातिगत जनगणना की बात शुरु की, श्री मोदी के दिमाग से जाति गायब हो गई।


श्री गांधी मध्यप्रदेश के विंध्य अंचल के सतना में कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कुछ दिन पहले कह रहे थे कि हिंदुस्तान में गरीब ही एकमात्र जाति है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के दिमाग से जाति इसलिए गायब हो गई क्योंकि उन्होंने (श्री गांधी ने) जाति जनगणना की बात शुरु कर दी। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री देश को सच्चाई नहीं बताना चाहते।

वो किसी भी भाषण में जाति जनगणना की बात नहीं कर सकते। उनका रिमोट अदाणी के हाथ में है। साथ ही उन्होंने दावा किया कि हिंदुस्तान में कम से कम 50 फीसदी जनसंख्या ओबीसी वर्ग की है और दिल्ली में कांग्रेस की सरकार बनते ही नेशनल जाति जनगणना होगी।


इसी क्रम में उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश और दिल्ली सरकार को एमएलए नहीं, अधिकारी चलाते हैं। मध्यप्रदेश को 53 अधिकारी चलाते हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने पता लगाया है कि इनमें से मात्र एक अधिकारी ओबीसी है। राज्य में ओबीसी की आबादी 50 फीसदी है, पर भागीदारी 100 रूपए में से 33 पैसा है।


उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि इसके बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कहते हैं कि राज्य में ओबीसी की सरकार है।
कांग्रेस नेता श्री गांधी ने आरोप लगाया कि भाजपा ने मध्यप्रदेश की नींव किसान, मजदूर, बेरोजगार, युवा और छोटे दुकानदारों को खत्म कर दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य में 18 साल में 18 हजार किसानों ने कर्ज के कारण आत्महत्या की है। भाजपा अरबपतियों को पैसा देती है। प्रदेश में किसान और मजदूर डरे हुए हैं क्योंकि यहां अर्थव्यवस्था का इंजन चालू नहीं है।


उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पिछली बार मध्यप्रदेश में कर्जमाफी की थी। फिर अरबपतियों ने श्री मोदी और श्री चौहान से मिल कर सरकार चोरी कर ली। उन्होंने कहा कि उन्होंने कर्नाटक अैर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों से साफ कहा है कि जितना पैसा भाजपा ने अदाणी और अरबपतियों को दिया है, उतना कांग्रेस सबसे गरीब लोगों को देने जा रही है।
उन्होंने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के संदर्भ में कहा कि इस दौरान उन्होंने देखा कि जहां भी भाजपा सरकार थीं, सब जगह बेरोजगारी थी।

उन्होंने कहा कि देश के युवाओं में ऊर्जा है, पर ये देश करोड़ों युवाओं को रोजगार नहीं दे पा रहा।
श्री गांधी ने श्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि वे दो करोड़ रुपए का सूट पहनते हैं। हजारों करोड़ के हवाईजहाज में जाते हैं। हर रोज लाखों का नया कपड़ा पहनते हैं, जबकि उनकी (श्री गांधी की) ये सफेद शर्ट ही चलती रहती है।
राज्य में 17 नवंबर को मतदान होना है। उसके पहले इन दिनों दोनों मुख्य दलों की ओर से चुनाव प्रचार जाेरों पर है।

Also Read: मुंबई में सड़क दुर्घटना में तीन की मौत, 12 घायल

राहुल ने दोहराया : हिंदुस्तान में जाति आधारित जनगणना होगी

Rahul reiterated: There will be caste based census in India.
Rahul reiterated: There will be caste based census in India.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने आज दृढ़ता के साथ दोहराते हुए कहा कि वे देश में जाति आधारित जनगणना के पक्ष में हैं और पार्टी की सरकार बनने पर ऐसा होकर ही रहेगा।

जाति आधारित जनगणना का अनेक अवसर पर समर्थन कर चुके श्री गांधी ने मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए अशोकनगर जिले में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए यह बात दृढ़ता के साथ फिर दोहरायी। उन्होंने कहा कि चाहे जो भी हो जाए, देश में जाति आधारित जनगणना होकर रहेगी और इसके बाद अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी), दलित और आदिवासी वर्ग को उनका हक दिलाया जाएगा।

श्री गांधी का कहना है कि वर्तमान में ओबीसी, दलित और आदिवासियों को उनका हक नहीं मिल पा रहा है। इसकी वजह यह है कि देश में इनकी संख्या कितनी है, इसके बारे में वास्तविक स्थिति पता नहीं है। जाति आधारित जनगणना होने पर यह स्थिति साफ हो जाएगी और फिर तीनों वर्गों को उनकी संख्या के हिसाब से उनके साथ न्याय किया जाएगा।

श्री गांधी ने युवाओं से आह्वान करते हुए कहा कि वे अंग्रेजी भाषा भी सीखें। ग्लोबलाइजेशन (वैश्वीकरण) का दौर है और इसलिए इस भाषा का अपना महत्व है। साथ ही उन्होंने कहा कि वे यह भी कहते हैं कि युवाओं को हिंदी भी बहुत अच्छे से सीखना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता हिंदी भाषा में पढ़ाई की बात करते हैं, लेकिन अपने बच्चों को शानदार अंग्रेजी माध्यम स्कूल में पढ़ाते हैं।

उन्होंने कांग्रेस शासित राज्य छत्तीसगढ़, राजस्थान और कर्नाटक में हुए कार्यों को गिनाया और कहा कि मध्यप्रदेश में फिर से कांग्रेस की सरकार बनने पर इन कामों को यहां भी किया जाएगा। श्री गांधी ने कहा कि किसानों का कर्जा माफ किए जाने के साथ ही काफी रियायती दरों पर बिजली और रसोईगैस सिलेंडर लोगों को मुहैया कराए जाएंगे। गरीबों, किसानों और महिलाओं के कल्याण के काम भी होंगे। राजस्थान की तर्ज पर स्वास्थ्य सुविधाएं इस राज्य के लोगों को मुहैया करायी जाएगी।

श्री गांधी ने केंद्र और राज्य में सत्तारूढ़ दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नीतियों की आलोचना की और कहा कि ये सिर्फ बड़े और कुछ उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए कार्य कर रहे हैं। गरीब, किसान और युवाओं के हित भाजपा की प्राथमिकता में शामिल नहीं हैं।

मध्यप्रदेश में सभी 230 सीटों पर विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 17 नवंबर को एक ही दिन होगा। इसके लिए चुनाव प्रचार अभियान जोर पकड़ चुका है और यह 15 नवंबर की शाम को समाप्त हो जाएगा। मतों की गिनती तीन दिसंबर को होने के साथ ही नयी सरकार के गठन को लेकर तस्वीर भी साफ हो जाएगी।

Also Read: त्रिपुरा के संसाधनों को राज्य से बाहर भेजा जा रहा है: देबबर्मा

जब एक ही जाति हैं तो मोदी क्यों बार बार बताते हैं अपने को ओबीसी-राहुल

When we are of the same caste then why does Modi repeatedly call himself OBC-Rahul?
When we are of the same caste then why does Modi repeatedly call himself OBC-Rahul?

वरिष्ठ कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जाति जनगणना की बजाय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गरीब की एक ही जाति होने के बयान पर उन्हे आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जब एक ही जाति गरीब की है तो फिर मोदी को हर जनसभा में अपने को ओबीसी ओबीसी कहने की क्या जरूरत है।


श्री गांधी ने आज यहां एक बड़ी चुनावी सभा में कहा कि..मोदी ने आज कहा कि एक ही जाति गरीब की है,यानी दलित ,पिछड़े आदिवासी नही है। क्या आदिवासी संस्कृति,इतिहास नही है। दलितों का फिर क्यों अपमान होता है और ओबीसी को क्यों उनका हक नही मिलता..। सिर्फ एक ही जाति है तो फिर श्री मोदी को क्यों बार बार हर जनसभा में अपने को ओबीसी कहना पड़ता है। उन्होने कहा कि मोदी भाजपा और संघ की सोच आदिवासी विरोधी है,और वह आदिवासियों को वनवासी कहकर उनका अपमान करते है।


उन्होने कहा कि उनकी सोच में आदिवासी मतलब जंगल में जानवरों जैसा रहने वाला वनवासी है। वह आदिवासियों से जानवरों जैसा व्यवहार करना चाहते है। उन्होने भाजपा के एक नेता द्वारा मध्यप्रदेश में एक आदिवासी पर पेशाब करने की घटना का उल्लेख करते हुए कहा कि इनकी सोच आदिवासियों के लिए अच्छी नही है। उन्होने कहा कि आदिवासी मतलब जिनके पास एक दिन जल,जंगल और जमीन थी और उसके मालिक थे। भाजपा की सोच इसके विपरीत है,अगर वह सत्ता में लौटी तो आदिवासी अपने मूल हक से वंचित हो जायेंगे।


श्री गांधी ने ट्राइबल बिल,पेसा कानून,जमीन अधिग्रहण कानून जैसे आदिवसियों के हित में कांग्रेस सरकारों द्वारा लिए गए अहम निर्णयों का जिक्र करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने प्रावधान किया कि आदिवासी इलाकों में बगैर ग्रामसभा की सहमति के जमीने नही ली जा सकती। उन्होने कहा कि यह कानून ही नही बनाए बल्कि इसे लागू भी किया गया।उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ में मोदी के परम मित्र अडानी की लौह अयस्क की खदान को यहां की कांग्रेस सरकार ने इसलिए रद्द कर दिया क्योंकि आदिवासी इसके विरोध में थे। उसके लिए आदिवासियों की राय की बहुत अहमियत है।


उन्होने मोदी पर लोगो से झूठे वादे करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी ने कहा कि 15 -15 लाख सभी के खाते में आयेंगे,नोटबंदी से काला धन वापस आयेगा और जीएसटी से हिन्दुस्तान को बदलेंगे..। उन्होने भीड़ से पूछा कि क्या ऐसा हुआ,जवाब मिला नही। श्री गांधी ने पिछले विधानसभा चुनावों में अपने किए वादों का जिक्र किया और पूछा कि क्या कोई है,जिसको इसका लाभ नही मिला। उन्होने कहा कि हमनें वादा किया था कि किसानों का कर्ज माफ करेंगे,धान 2500 रूपए क्विंटल खरीदेंगे,मंत्रिपरिषद की पहली बैठक में इसका निर्णय लिया। श्री गांधी ने लोगो को विश्वास दिलाया कि इस बाऱ भी जो वादे हम करेंगे उसको जरूर पूरा करेंगे। हम जो कहते है उसे जरूर पूरा करते है।


श्री गांधी ने कहा कि मोदी तथा भाजपा एवं राहुल तथा कांग्रेस की सोच में बड़ा फर्क यह है कि हम किसानों का कर्जा माफ करते है उन्हे धान की अच्छी कीमत देते हैं,बिजली बिल में रियायत देते है तो फिर उसके पास पैसा बचता है। वह पैसा वह गांव में खर्च करता है जिससे छोटा व्यापारी भी लाभान्वित होता है आगे बढ़ता है,और गांव की अर्थव्यवस्था मजबूत होती है जबकि मोदी की सोच अडानी को मजबूत करने की है,क्या अडानी गांव में एक भी पैसा खर्च करेंगा,वह तो अमरीका जापान और दूसरे देशों में खर्च करेंगा और अपना व्यापार बढ़ायेगा।


उन्होने मोदी और भाजपा नेताओं की भाषा नीति पर गंभीर सवाल उठाया और कहा कि यह हिन्दी हिन्दी करते रहते है जबकि अपने बच्चों को अंग्रेजी मीडिएम स्कूल में पढ़ाते है। वह नही चाहते कि गांव गरीब और आदिवासी का बच्चा अंग्रेजी पढ़े। उनका मानना है कि आदिवासियों और इन वर्गों का बच्चा अगर अंग्रेजी पढ़ गया तो डाक्टर,इंजीनियर,पायलट बनने की सोचने लगेंगा। उन्होने छत्तीसगढ़ सरकार के स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी मीडिएम स्कूल का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस की सोट यह हैं कि गरीब आदिवासी का बच्चा भी छत्तीसगढ़ी,हिन्दी के साथ ही अंग्रेजी भी पढ़े। उन्होने लोगो से कांग्रेस सरकार के पांच वर्ष के कामकाज पर फिर समर्थन देने की अपील की।

Also Read: मोदी ने मुफ्त राशन योजना को अगले पांच वर्ष के लिए बढ़ाने का किया ऐलान

खडगे,सोनिया,राहुल ने इंदिरा गांधी को किया पुण्यतिथि पर नमन

Kharge, Sonia, Rahul paid tribute to Indira Gandhi on her death anniversary
Kharge, Sonia, Rahul paid tribute to Indira Gandhi on her death anniversary

 कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडगे, कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी तथा राहुल गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को 39वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित की।

श्री खडगे, श्रीमती गांधी और राहुल गांधी आज सुबह इंदिरा गांधी की समाधि शक्ति स्थल पहुंचे और पूर्व प्रधानमंत्री को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

कांग्रेस पार्टी ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इंदिरा गांधी को पुण्यतिथि पर याद करते हुए कहा “शक्ति, संकल्प और सशक्त नेतृत्व की मिसाल, देश की प्रथम महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर कोटि-कोटि नमन।”

Also Read: अगर सरदार पटेल नहीं होते तो भारत का मौजूदा मानचित्र संभव नहीं था: शाह

मध्यप्रदेश कांग्रेस : स्टार प्रचारकों की सूची, सोनिया-राहुल-प्रियंका के साथ कन्हैया कुमार भी करेंगे प्रचार

Madhya Pradesh Congress: List of star campaigners, Kanhaiya Kumar will also campaign along with Sonia-Rahul-Priyanka.
Madhya Pradesh Congress: List of star campaigners, Kanhaiya Kumar will also campaign along with Sonia-Rahul-Priyanka.

मध्यप्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने आज अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी, जिसमें गांधी परिवार के तीन सदस्यों सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी और राहुल गांधी के अलावा पार्टी के युवा नेता कन्हैया कुमार का नाम भी शामिल है।

सूची में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, पार्टी के प्रदेश प्रभारी रणदीप सुरजेवाला, नेता प्रतिपक्ष डॉ गोविंद सिंह, वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह, सुरेश पचोरी, कांतिलाल भूरिया, अरुण यादव के भी नाम शामिल हैं। प्रदेश अध्यक्ष श्री कमलनाथ के सांसद पुत्र नकुलनाथ ने भी कांग्रेस की स्टार प्रचारकों की सूची में जगह बनाई है।

मध्यप्रदेश चुनाव के लिए कांग्रेस शासित अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों का नाम भी स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के भूपेश बघेल और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू भी राज्य में कांग्रेस का प्रचार करने आएंगे।

राजस्थान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट और उत्तरप्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राज बब्बर भी मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव में पार्टी के लिए वोट मांगेेंगे।

मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्रियों जीतू पटवारी, कमलेश्वर पटेल, ओंकार सिंह मरकाम, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह और सांसद विवेक तन्खा एवं राजमणि पटेल को भी पार्टी ने प्रदेश में अपना स्टार प्रचारक घोषित किया है। प्रदेश में कांग्रेस का जाना-माना चेहरा मीनाक्षी नटराजन ने भी इस सूची में जगह बनाई है।

Also Read: द रेलवे मेन का टीजर रिलीज

अडानी ने किया 32000 करोड़ रुपए का घोटाला : राहुल

One hundred feet long dosa display at World Food India
One hundred feet long dosa display at World Food India

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उद्योगपति गौतम अडानी पर सीधा हमला करते हुए कहा है कि उन्होंने (श्री अडानी) कोयला घोटाला किया है, जिसके कारण बिजली की कीमतें बढ़ी हैं और बिजली दरें बढ़ाकर जनता के 32000 करोड़ रुपए डकारे गए हैं।

श्री गांधी ने बुधवार पार्टी मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पहले हम 20,000 करोड़ के घोटाले की बात कर रहे थे, लेकिन अब एक अखबार ने रिपोर्ट छपी है कि 12,000 करोड़ रुपए का और घोटाला हुआ है और इस तरह से अडानी समूह ने पूरा 32,000 करोडट रुपए का घोटाला किया है।

उन्होंने कहा कि आश्चर्य की बात यह है कि घोटाले के दस्तावेज मौजूद हैं, लेकिन मोदी सरकार अपने प्रिय उद्योगपति के खिलाफ किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। उनका कहना था कि अडानी के खिलाफ कार्रवाई इसलिए नहीं हो रही है, क्योंकि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उन्हें संरक्षण प्राप्त है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि जब अडानी के खिलाफ दस्तावेज हैं, तो श्री मोदी और उनके नेतृत्व वाली सरकार इस उद्योगपति के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं करती, जबकि इसको लेकर कांग्रेस सांसद से सड़क तक सवाल उठा रही है और इस घोटाले के सबूत भी दे रही है। उनका कहना है कि अडानी ने हिंदुस्तान की जनता की पॉकेट से 12,000 करोड़ रुपए निकाले हैं और इस तरह से अडानी ने देश में 32,000 करोड रुपए का कोयला घोटाला किया है।

उन्होंने कहा, “इस घोटाले का पैसा देश की जनता की जेब से बिजली की कीमतें बढ़ाकर वसूला गया है। बिजली की कीमतें बढ़ने की वजह कोयला घोटाला कर अडानी द्वारा आपकी जेब से निकल गए 12,000 करोड़ है जो बढ़कर अब 32000 करोड रुपए का घोटाला हो गया है।”

श्री गांधी ने कहा, “कांग्रेस सरकार मध्य प्रदेश, कर्नाटक आदि राज्यों में बिजली में सब्सिडी देकर लोगों को राहत दे रही है लेकिन असली मुद्दा बिजली की कीमतें बढ़ने का है जो अडानी के कोयला घोटाले की वजह से बढ़ रहीं है।”

Also Read: रोहित ने आईसीसी रैकिंग में पांच पायदान की लागई छलांग

कांग्रेस की आदिवासियों को सम्मान देने की सोच, भाजपा ने अत्याचार में बनाया नंबर एक : प्रियंका

Congress thought of giving respect to tribals, BJP made number one in atrocities: Priyanka
Congress thought of giving respect to tribals, BJP made number one in atrocities: Priyanka

 कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आज मध्यप्रदेश के महाकौशल अंचल के आदिवासीबहुल जिले मंडला में आदिवासियों से भावुक अपील करते हुए कहा कि कांग्रेस की पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत इंदिरा गांधी से लेकर अब तक आदिवासियों को सम्मान देने की सोच है, जबकि भारतीय जनता पार्टी ने इस प्रदेश को आदिवासियों पर अत्याचार में एक नंबर पर पहुंचा दिया है।

श्रीमती वाड्रा यहां कांग्रेस की चुनावी रैली को संबोधित कर रहीं थीं। इस दौरान पार्टी महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ समेत कई अन्य वरिष्ठ नेता उपस्थित थे।

श्रीमती वाड्रा ने अपने संबोधन की शुरुआत में अपनी दादी इंदिरा गांधी का स्मरण करते हुए कहा कि वे आदिवासियों की संस्कृति को सबसे सुंदर बतातीं थीं, क्योंकि आदिवासी प्रकृति की पूजा करना सिखाते हैं। उन्होंने आदिवासियों के आस्था केंद्र मंडला स्थित मढ़िया चौगान का भी संदर्भ दिया। उन्होंने कहा कि आदिवासियों को स्वर्गीय इंदिरा गांधी पर भरोसा था। ऐसे में अब उनकी (स्वयं श्रीमती वाड्रा की) जिम्मेदारी बनती है कि वे आदिवासियों के लिए सच और सही बात करें और उन कामों को आगे बढ़ाएं, जो काम उनकी दादी ने शुरु किए।

उन्होंने कहा कि स्वर्गीय इंदिरा गांधी ने आदिवासियों को जमीन के पट्टे दिलवाए क्योंकि कांग्रेस की आदिवासियों को शक्ति देने की परंपरा रही है। कांग्रेस वनाधिकार कानून लाई और आदिवासियों को जल जंगल जमीन का अधिकार दिया, जबकि भाजपा ने आदिवासियों के सारे अधिकार छीने।

इसी क्रम में उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज के साथ अत्याचार में मध्यप्रदेश देश भर में सबसे ऊपर है। प्रदेश में तेंदूपत्ता मजदूरों का शोषण हो रहा है। उन्हें तेंदूपत्ते पर बोनस नहीं दिया जा रहा।

इसी क्रम में उन्होंने भाजपा सरकार की ओर से तेंदूपत्ता मजदूरों को दिए जाने वाले चप्पल, जूतों और छाते को लेकर भी सरकार पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि सरकार थोक में सामान खरीदती है और बिना साइज जांचे आदिवासियों को जूते पकड़ा देती है। सरकार ये सब सामान दे रही है, लेकिन आदिवासियों का हक, तेंदूपत्ता पर बोनस उन्हें नहीं दे रही। उन्होंने घोषणा की कि छत्तीसगढ़ में तेंदूपत्ता पर चार हजार रूपए बोनस मिल रहा है, मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर यहां भी प्रति बोरे पर इतना ही बोनस दिया जाएगा और छत्तीसगढ़ की तरह पेसा कानून आएगा। इसके साथ ही उन्होंने आदिवासियों के क्षेत्र में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों को भी गिनाया।

श्रीमती वाड्रा ने इस आदिवासीबहुल क्षेत्र में जाति जनगणना का मुद्दा भी एक बार फिर उठाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार इस बारे में बात नहीं करना चाहती। कांग्रेस आदिवासी वर्ग को न्याय दिलाना चाहती है, इसलिए जातिगत जगणना होनी चाहिए।

कांग्रेस की गारंटी दोहराते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर किसानों की कर्जमाफी की जाएगी, कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन लागू होगी। 100 यूनिट बिजली मुफ्त, 500 रुपए में सिलेंडर, महिलाओं को डेढ़ हजार रुपए हर महीने, पांच हॉर्सपावर सिंचाई की बिजली, ओबीसी आरक्षण 27 फीसदी और जातिगत जनगणना कराई जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आदिवासियों की आबादी जहां 50 प्रतिशत से अधिक होगी, वहां छठीं अनुसूची डाली जाएगी। अजा-अजजा के बैकलॉग पदों को भरा जाएगा। उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना में शहर और देहात में बराबर राशि दी जाएगी।

Also Read: माफिया की तरह काम कर रही है केंद्र सरकार : कांग्रेस