130 यात्रियों की जान से खेलने पर उतारू थी जेट

आज जेट एयरवेज अपनी मुंबई से भोपाल आने वाली  फ्लाइट की उड़ान में सवार 130 यात्रियों की जान से खेलने पर उतारू थी। विमान का एसी काम नहीं कर रहा था। इसके बाद भी पायलट विमान को रन वे पर ले आया था। यात्रियों ने हंगामा किया तब पायलट को विमान वापस वे पर लाना पड़ा।
जेट एयरवेज के एक प्रवक्ता ने लिखित बयान में कहा कि उड़ान संख्या एस2-4621 जो 14 अप्रैल को मुंबई से भोपाल जा रही थी, केबिन के तापमान संबंधी तकनीकी कारणों से उसे उड़ान भरने से पहले वापस लाना पड़ा। प्रवक्ता ने बताया कि विमान में 130 यात्री सवार थे। यह उड़ान जेट एयरवेज की इकाई जेट लाइट की थी। जेट के प्रवक्ता ने बताया कि इंजीनियरिंग स्टाफ द्वारा विमान की जाँच के बाद उसे उड़ान भरने की अनुमति दे दी गयी। एक यात्री ने तबीयत ठीक नहीं होने की शिकायत करते हुये जाने से मना कर दिया। जानकारी के अनुसार, दो घंटे 10 मिनट की देरी से फ्लाइट सुबह 8.10 बजे मुंबई से रवाना हुई और सुबह 9.15 बजे भोपाल पहुँची।
एक यात्री ने बताया कि उन्हें मुंबई से भोपाल जाना था। फ्लाइट सुबह करीब छह बजे की थी। एयरलाइंस ने यात्रियों को विमान में बिठा दिया और उड़ान भरने के लिए विमान रनवे पर भी चला गया जबकि उसका एसी काम नहीं कर रहा था। बिना एसी के बंद विमान में डेढ़ घंटे की यात्रा कई यात्रियों को बीमार कर सकती थी।
ऐसे में जब यात्रियों ने एक साथ खड़े होकर विरोध किया तो पायलट विमान को वापस ‘बे’ में ले गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here