कबीर की राह चल रही मप्र सरकार : कोविंद

भोपाल,  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने यहां शुक्रवार को कहा कि संत कबीर समावेशी विकास के पक्षधर रहे हैं, इससे अन्य वर्गो के साथ वंचित और कमजोर वर्ग को भी विकास का लाभ मिलता है। मध्य प्रदेश की सरकार इसी तरह समावेशी विकास को आगे बढ़ा रही है। दो दिवसीय प्रवास पर शुक्रवार की दोपहर सपत्नीक भोपाल पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद ने लाल परेड मैदान में आयोजित सद्गुरु कबीर प्रकटोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए।

कोविंद ने कहा, “संत कबीर समानता और समरसता के पक्षधर रहे हैं, वह निर्भीक समाज सुधारक थे, हमेशा अंध विश्वास के विरोधी रहे। कबीर के विचार को डॉ. अंबेडकर ने आगे बढ़ाया, वह भी निर्बल के पक्षधर रहे। भारतीय संविधान में भी यह बात कही गई है।”

कोविंद ने मध्य प्रदेश सरकार की कार्यशैली की सराहना करते हुए कहा, “यहां की सरकार कबीर की मंशा के मुताबिक काम कर रही है। समाज के अंतिम व्यक्ति तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाया जा रहा है, कबीर के नाम पर सम्मान दिया जा रहा है, इसके साथ ही तीर्थदर्शन योजना में कबीर से संबद्ध स्थलों को भी शामिल किया जा रहा है।”

इससे पहले राष्ट्रपति कोविंद नई दिल्ली से दोपहर लगभग 2़15 बजे भोपाल पहुंचे। हवाईअड्डे पर उनका स्वागत राज्यपाल ओ़ पी. कोहली और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया। कोविंद को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

राष्ट्रपति सद्गुरु कबीर प्रकटोत्सव में शामिल होने के बाद जीटीबी कॉम्पलेक्स में रानी झलकारी बाई की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। इसके बाद राजभवन पहुंचेंगे। राज्यपाल कोहली राष्ट्रपति के सम्मान में राजभवन में रात्रिभोज देंगे।

राष्ट्रपति शनिवार की सुबह रायपुर और फिर वहां से अमरकंटक के आईजीएनटीयू हेलीपैड पहुंचेंगे, जहां से वह नर्मदा मंदिर जाएंगे और पूजा अर्चना करेंगे। राष्ट्रपति नर्मदा मंदिर में दर्शन के बाद इंदिरा गांधी नेशनल ट्राईबल यूनिवर्सिटी पहुंचेंगे और द्वितीय दीक्षांत समारोह में भाग लेंगे।

राष्ट्रपति शनिवार की दोपहर 2़ 15 बजे अमरकंटक से हेलीकॉप्टर से रवाना होकर रायपुर पहुंचेंगे और वहां से नई दिल्ली रवाना होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here