बचपन की दोस्त कीज को हरा स्टीफंस ने जीता अमेरिका ओपन

न्यूयॉर्क, 10 सितम्बर | अपनी बचपन की दोस्त को मात देकर अमेरिका की स्लोआने स्टीफंस ने साल के चौथे और अंतिम ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट अमेरिका ओपन का खिताब अपने नाम किया। स्टीफंस ने महिला एकल वर्ग के खिताबी मुकाबले में अपनी हमवतन मेडिसन कीज को सीधे सेटों में 6-3, 6-0 से मात दी। यह उनके करियर का पहला ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, इस जीत के साथ ही विश्व रैेंकिंग में 83वें स्थान पर रहने वाली स्टीफंस पर 20वें स्थान पर पहुंच गई हैं।

उल्लेखनीय है कि पैर में चोट के कारण 11 माह तक टेनिस कोर्ट से बाहर रहने के बाद स्टीफंस ने विंबलडन ओपन से टेनिस में वापसी की।

खिताबी जीत के बाद स्टीफंस ने कहा, “चोटिल होने पर मुझे लगा था कि मुझे अब संन्यास ले लेना चाहिए। मैंने मेडी को कहा था कि मैं कभी भी इस टूर्नामेंट में वापसी नहीं कर पाऊंगी।”

इस टूर्नामेंट में ब्रिटिश खिलाड़ी जेमी मरे और स्विट्जरलैंड की मार्टिना हिंगिस की जोड़ी ने मिश्रित युगल वर्ग का खिताब अपने नाम किया है।

टूर्नामेंट में मिश्रित युगल वर्ग के फाइनल में मरे-हिंगिस की जोड़ी ने न्यूजीलैंड के माइकल वीनस और चीनी ताइपे की चान हाओ-चिंग की जोड़ी को मात दी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, विंबलडन ओपन जीतने वाली मरे-हिंगिस की जोड़ी ने माइकल-चिंग की जोड़ी को 6-1, 4-6, 10-8 से मात दी।

दोनों जोड़ियों का सामना अब तक 10 बार एक-दूसरे से हो चुका है और इस रिकॉर्ड में मरे-हिंगिस की जोड़ी 10-0 से आगे है।

मरे और हिगिस ने कहा कि वह अगले साल आस्ट्रेलिया ओपन खेलने के लिए तैयार हैं।

मरे ने कहा कि उनके लिए हिंगिस के साथ प्रतिस्पर्धा करना एक बड़ा अवसर है। वह एक बेहतरीन खिलाड़ी हैं और इस खेल की सबसे बड़ी विजेता हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here