कोलकाता टेस्ट : बारिश, लकमल, रोशनी से प्रभावित रहा पहला दिन

कोलकाता,  भारत और श्रीलंका के बीच गुरुवार से ईडन गार्डन्स स्टेडियम में शुरू हुए पहले टेस्ट मैच के पहले दिन पहले बारिश और श्रीलंकाई पेसर सुरंगा लकमल ने खेल बिगाड़ा और फिर खराब रोशनी के कारण दिन का खेल जल्दी खत्म कर दिया गया। हालांकि बारिश के अलावा मेजबान टीम को श्रीलंका के तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने खासा परेशान किया। भारत ने दिन का अंत तीन विकेट के नुकसान पर 17 रनों के साथ किया। यह तीनों विकेट लकमल ने छह ओवरों में बिना कोई रन दिए लिए हैं।

भारत ने लोकेश राहुल (0), शिखर धवन (8), कप्तान विराट कोहली (0) के रूप में तीन अहम विकेट खो दिए हैं। स्टम्प्स तक चेतेश्वर पुजारा आठ रन बनाकर नाबाद हैं जबकि उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने अभी खाता नहीं खोला।

लकमल से ज्यादा खाली गेंदें फेंकने का रिकार्ड वेस्टइंडीज के जेरोम टेलर के नाम है। उन्होंने 2015 में दक्षिण अफ्रीका में लगातार 40 खाली गेंदें फेंकी थी। वहीं लकमल ने 36 गेंदों पर लगातार कोई भी रन नहीं दिया है।

इससे पहले दिन का पहला सत्र बारिश की भेंट चढ़ गया। दूसरे सत्र की शुरुआत में टॉस हुआ लेकिन इसके बाद भी बारिश आती-जाती रही और मैच बीच-बीच में रूकता रहा। अंतत: खराब रोशनी के कारण तय समय से पहले दिन का खेल समाप्ति की घोषणा कर दी गई।

आज के नुकसान की भरपाई करने के लिए दूसरे दिन शुक्रवार को मैच की शुरुआत तय समय से पहले की जा सकती है।

टॉस होने से पहले बारिश ने दस्तक दी और लगातार जारी रही। इसी बीच कुछ देर के लिए बारिश रूकी, लेकिन कुछ देर बाद फिर शुरू हो गई। इसी कारण पहले सत्र का खेल नहीं हो सका और भोजनकाल की घोषणा कर दी गई।

मैच की शुरुआत दूसरे सत्र में हुई और लकमल ने पहली ही गेंद पर राहुल को विकेट के पीछे निरोशन डिकवेला के हाथों कैच करा दिया।

विकेट से मिल रही अतिरिक्त उछाल का लकमल ने फायदा उठाया और लगातार भारतीय बल्लेबाजों को परेशान करते रहे। इसी बीच धवन उनकी गेंद को जल्दी खेलने के प्रयास में बोल्ड हो गए।

इसके बाद बारिश आ गई और कुछ देर के लिए खेल रोक दिया गया। कुछ देर बाद मैच फिर शुरू हुआ और भारत ने कोहली के रूप में तीसरा विकेट खोया। वह लकमल की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए।

कोहली के जाने के बाद तकरीबन दो ओवरों का खेल खेला गया, लेकिन खराब रोशनी के कारण मैच समय से पहले समाप्त कर दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here