चुनाव वाले तीन राज्यों में कांग्रेस का हाथ थामेगा बसपा-सपा का साथ

मध्यप्रदेश में साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस अकेले ही भाजपा का मुकाबला करेगी या फिर बसपा और सपा को भी अपने साथ लेगी? भाजपा विरोधी दलों के साथ गठबंधन के लिए कांग्रेस अपनी एकला चलों की नीति में बदलाव की इच्छुक दिखाई दे रही है। इस साल देश के जिन तीन राज्य मध्यप्रदेश,राजस्थान और छत्तीसगढु में चुनाव हैं वहां बसपा का वोट बैंक भी है। सपा और बसपा राजस्थान और मध्यप्रदेश के कुछ इलाकों में कांग्रेस से ज्यादा असर रखती हैं। तीनों राज्यों में गठबंधन के लिए संवाद का सिलसिला चल रहा है। मामला सीटों के बंटवारे पर अटका हुआ है।


बसपा-सपा के संपर्क में सिंधिया,कमलनाथ
कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि कांग्रेस मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए बहुजन समाज पार्टी से गठबंधन की दिशा में काम कर रही है। पार्टी के वरिष्ठ नेता कमलनाथ एवं ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मध्य प्रदेश में चुनाव पूर्व गठबंधन के लिए बसपा प्रमुख मायावती और वरिष्ठ बसपा नेता सतीश मिश्रा से भी बात की है। छत्तीसगढ़ में भी भाजपा के विरोधी मतों को अपने खाते में बटोरने के लिए ऐसे ही गठबंधन का प्रयास किया जा रहा है। कांग्रेस क्षेत्रीय दलों के साथ चर्चा के लिए वरिष्ठ पार्टी नेताओं की समितियां बनाने का काम कर रही है तथा आने वाले दिनों में इस प्रक्रिया में तेजी लायी जायेगी।

बिहार चुनाव के बाद आया कांग्रेस के रुख में बदलाव
कांग्रेस के रूख में बदलाव का एक बड़ा कारण 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ कांग्रेस-राष्ट्रीय जनता दल-जनता दल महागठबंधन, उत्तर प्रदेश में गाेरखपुर लोकसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी-बसपा के साथ गठबंधन तथा कैराना लोकसभा एवं नूरपुर विधानसभा उपचुनाव में संयुक्त विपक्षी मोर्चे की सफलता है।

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि सभी राज्यों के लिए एक समान रणनीति नहीं हो सकती। बहरहाल पार्टी 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा विरोधी मतों को अपनी ओर मिलाने की रणनीति पर काम कर रही है। कांग्रेस करीब 400 लोकसभा सीटों पर क्षेत्रीय दलों के साथ गठबंधन की संभावना पर नजर रखे हुए है। इसके अलावा वह इसी साल के अंत में मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में होने जा रहे विधानसभा चुनाव में अन्य विपक्षी दलों के साथ गठबंधन के लिए विचार कर रही है। इन दोनों राज्यों में वर्तमान में भाजपा की ही सरकारें हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here