लास वेगास कांड : हत्यारे ने होटल में लगाए थे कैमरे

लास वेगास, 4 अक्टूबर | लास वेगास में रविवार को गोलियों की बौछार कर 59 लोगों की हत्या करने व 500 से ज्यादा को घायल कर देने वाले बंदूकधारी स्टीफन पैडोक ने अपने होटल सुइट के आसपास कैमरे लगाए थे। पुलिस ने यह जानकारी दी।

बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, गलियारे में लगे दो कैमरों और झरोखे में लगे एक कैमरे से वह देख सकता था कि प्रवर्तन या सुरक्षा अधिकारी आ रहे हैं या नहीं।

अधिकारी अभी भी यह जानने कि कोशिश कर रहे हैं कि पैडोक (64) ने मैंडाले बे होटल से एक कंसर्ट स्थल पर अंधाधुंध गोलियां क्यों बरसाइर्ं। हालांकि, वे जानते हैं कि इसके लिए उच्च स्तरीय योजना बनाई गई थी।

क्लार्क काउंटी के शेरिफ जोसेफ लोमबाडरे ने मंगलवार को संवाददाताओं के बताया, “इस शख्स ने पहले से योजना बना रखी थी, बिल्कुल यह पूर्व निर्धारित थी। उसके कमरे में जिस प्रकार के और जितनी बड़ी मात्रा में हथियार थे, वे इस तथ्य की पुष्टि करते हैं।”

अंडरशेरिफ केविन मैकहिल ने कहा कि जब पैडोक सुरक्षा गार्ड को गोली मारने पर परेशान था, उस समय हमले को रोका जा सकता था।

आधुनिक अमेरिकी इतिहास में सबसे घातक गोलीबारी की घटना माने जा रहे इस हमले के बाद अमेरकिा में बंदूक रखने संबंधी कानून को लेकर बहस छिड़ गई है।

पैडोक ने होटल के 32वें मंजिल पर स्थित अपने कमरे में और अपने घर में 42 हथियार रखे थे, जो (घर) नरसंहार वाली जगह से 130 किलोमीटर दूर है।

अधिकारियों को नेवादा के मेस्क्वाइट में स्थित पैडोक के घर से 19 हथियार मिले हैं और 23 हथियार लास वेगास के मैंडोले बे होटल से मिले हैं, जहां से उसने कंसर्ट में शामिल 22,000 लोगों पर अंधाधुंध गोलियां बरसाई।

पुलिस ने बंदूकधारी की कार से कई किलो अमोनियम नाइट्रेट बरामद किया है, जिसका विस्फोटक बनाने में इस्तेमाल किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here