ब्लूमबर्ग ने पेरिस समझौते में अमेरिका के 45 लाख डॉलर की रकम के भुगतान की पेशकश की

न्यूयॉर्क के पूर्व मेयर माइकल ब्लूमबर्ग का कहना है कि वह पेरिस जलवायु समझौते में अमेरिका के हिस्से के 45 लाख डॉलर की रकम का भुगतान करेंगे। ब्लूमबर्ग ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पेरिस समझौते से अलग होने की वजह से एक नागरिक के नाते पर्यावरण में सुधार में मदद करना उनकी जिम्मेदारी है।
ब्लूमबर्ग ने 22 अप्रैल 2018 को सीबीएस के ‘फेस द नेशन’ कार्यक्रम के दौरान कहा, “अमेरिका ने वादा किया था और एक अमेरिकी होने के नाते यदि सरकार ऐसा नहीं करेगी तो यह हमारी जिम्मेदारी बनती है।”
उन्होंने कहा, “मैं यह करने में सक्षम हूं। इसलिए हां, मैं उन्हें इस रकम का चेक भेजूंगा, जिसका वादा अमेरिका ने किया था।”
गौरतलब है कि जनवरी में ट्रंप ने कहा था कि इस समझौते में अमेरिका के साथ न्यायसंगत व्यवहार किया जाए तो हम इससे वापस जुड़ सकते हैं।

ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा था, “मुझे समझौते से कोई दिक्कत नहीं है लेकिन उस समझौते से दिक्कत है, जिस पर ओबामा प्रशासन ने हस्ताक्षर किए थे।”
ब्लूमबर्ग ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि ट्रंप 2019 तक इस समझौते से दोबारा जुड़ने पर विचार कर सकते हैं।
उन्होंने कहा, “वह अपने फैसले बदलने के लिए जाने जाते हैं। यह सच है। अमेरिका इस समाधान का एक बड़ा हिस्सा है और हमे इस मुसीबत से दुनिया को बचाने में मदद करनी चाहिए।”
ब्लूमबर्ग की चैरिटी संस्था ‘ब्लूमबर्ग फिलैंथ्रोपीज’ ने 2017 में भी पर्यावरण से जुड़े एक काम के लिए कम पड़ रहे 1.5 करोड़ डॉलर की पेशकश की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here