ताव खा रहा है टमाटर: सौ रूपए किलो पहुंचे दाम:सीसीटीवी की निगरानी में

देश के कई राज्यों में बारिश से फसल खराब हो जाने के कारण टमाटर तेजी पकड़े हुए है। हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड से टमाटर की आमद कम होने के साथ ही महाराष्ट्र, गुजरात और कर्नाटक से तो आपूर्ति लगभग नगण्य है। राजधानी दिल्ली में टमाटर के दाम सौ रूपए प्रतिकिलो जा पहुंचे हैं।  मदर डेयरी की रिटेल श्रंखला सफटा पर ही टमाटर 96 रुपये प्रति किलो बिक रहा है। कई अन्य खुदरा श्रंखलाओं पर भी टमाटर के दाम 100 रुपये प्रति किलो के आसपास ही है।  एशिया की सबसे बड़ी फल-सब्जी मंडी आजादपुर के एक प्रमुख व्यापारी रवीन्द्र सिंह ने बताया कि  बरसात से फसल खराब हो गयी है और आपूर्ति बहुत सीमित है। मंडी में  ही टमाटर का थोक भाव 55 से 80 रुपये किलो तक है। कारोबारियों  का कहना है कि थोक में ही टमाटर इतना महंगा है कि खरीदने की हिम्मत नहीं होती। उन्होने  बताया कि 24-25 किलो कैरेट का दाम 2000 रुपये के आसपास है। अन्य खर्च अलग है।

मुंबई कोलकाता में भी टमाटर पहुंच से बाहर

दिल्ली एवं एनसीआर के बाजारों  में टमाटर की कीमत 80 से 100 रुपये किलो के बीच है। टमाटर राजधानी में ही नहीं देश के अन्य हिस्सों  में  भी लाल है। उपभोक्ता मामलों  के विभाग के आंकड़ों  के अनुसार कल प्रमुख शहरों  में औसत किस्म का टमाटर 80 और बढ़िया 96 रुपये प्रति किलो तक था। दिल्ली में यह 83 रुपये, मुम्बई में 88, कोलकाता में 95 रुपये और चेन्नई में 80 रुपये प्रति किलो थी।

मध्यप्रदेश में सीसीटीवी की निगरानी में टमाटर की विक्री

 आसमान छूते टमाटर  की बढती कीमतों को लेकर मध्यप्रदेश की होशंगाबाद सब्जी मंडी में थोक सब्जी व्यापारी सीसीटीवी की निगरानी में टमाटरों  की बिक्री कर रहे हैं ।  थोक व्यापरी अमीन राइन ने बताया की टमाटर की सुरक्षा के लिए चार सीसीटीबी कैमरे लगाये हैं । रात में पंजाब और महाराष्ट से आने वाली टमाटर से भरी गाडियो को सीसीटीबी के सामने खड़ा किया जाता है। सीसीटीवी की निगरानी में ही टमाटर की विक्री की जा रही है। पंजाब और महाराष्ट से आने वाला टमाटर डेढ़ हघर से दो हजार रूपये केरेट बेचे  जा रहे हैं । टमाटर महंगा होने के कारण टमाटर की चोरी की आशंका ने व्यापारियो को चिंतित कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here