‘एस दुर्गा’ पर सूचना एवं प्रकाशन मंत्रालय का कोई निर्देश नहीं : इफ्फी निदेशक

पणजी,  भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्वस (इफ्फी) के निदेशक सुनीत टंडन ने बुधवार को कहा कि महोत्सव में सानल कुमार शशिधरण की फिल्म ‘एस दुर्गा’ को दिखाए जाने को लेकर केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से कोई निर्देश नहीं मिला है। केरल उच्च न्यायालय ने मंगलवार को इफ्फी में इस फिल्म को दिखाने का आदेश दिया था।

48वें इफ्फी से इतर ‘खुला मंच : फिल्म महोत्सव को आयोजित करने में कठिनाइयां’ कार्यक्रम में फिल्म के प्रमुख अभिनेता कन्नान नायर ने टंडन से फिल्म की स्क्रीनिंग को लेकर सवाल पूछे।

इसके बाद टंडन बीच में ही संवाद छोड़कर चले गए। टंडन ने हालांकि शशिधरण से एक लिखित आवेदन स्वीकार किया जिसमें फिल्म को दिखाए जाने की तिथि व मंगलवार को दिए गए केरल उच्च न्यायालय के आदेश की प्रति शामिल है। टंडन ने हालांकि फिल्म को प्रदर्शित करने को लेकर कोई प्रतिबद्धता नहीं जताई।

एक पत्रकारा द्वारा यह पूछे जाने पर कि क्या केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने ‘एस दुर्गा’ को दिखाए जाने को लेकर कुछ निर्देश दिया है, पर उन्होंने कहा, ” जब भी इस संबंध में मुझे कुछ बताया जाएगा, मैं आपको बताऊंगा।”

कन्नान ने आईएएनएस को बताया कि गोवा में फिल्म की कॉपी आ चुकी है और इस फिल्म से जुड़े सभी सहयोगी केवल फिल्म दिखाए जाने की तिथि की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

कन्नान ने कहा, “हमलोग तैयार हैं। हमने फिल्म प्रदर्शित करने की तिथि और केरल उच्च न्यायालय के आदेश की प्रति का आवेदन आज दे दिया है। गेंद अब उनके पाले में है।”

उन्होंने यह भी कहा कि फिल्म के निर्देशक द्वारा इससे पहले दिन में आवेदन और केरल उच्च न्यायालय के आदेश की प्रति महोत्सव के निदेशक के कार्यालय में जमा करवाने की कोशिश विफल हो गई। उनके कार्यालय अधिकारी ने हमें आवेदन जमा करने नहीं दिए।

कन्नान ने कहा, “यही कारण है कि मुझे इस खुले मंच में इस मुद्दे पर प्रश्न पूछने पर मजबूर होना पड़ा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here