आज का पंचांग 24 मई 2018

🌞 *सुप्रभातम्* 🌞
 ««« *आज का पंचांग* »»»
कलियुगाब्द…………….5120
विक्रम संवत्……………2075
शक संवत्………………1940
मास………………………ज्येष्ठ
पक्ष……………………...शुक्ल
तिथी…………………….दशमी
संध्या 06.21 पर्यंत पश्चात एकादशी
रवि…………………..उत्तरायण
सूर्योदय………..05.47.35 पर
सूर्यास्त…………07.00.07 पर
सूर्य राशि………………….वृषभ
चन्द्र राशि………………..कन्या
नक्षत्र……………उत्तराफाल्गुनी
संध्या 07.43 पर्यंत पश्चात हस्त
योग………………………..वज्र
रात्रि 08.57 पर्यंत पश्चात सिद्धि
करण…………………….तैतिल
प्रातः 06.43 पर्यंत पश्चात गरज
ऋतु……………………….ग्रीष्म
दिन……………………..गुरुवार
🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :-
24 मई सन 2018 ईस्वी ।
👁🗨 *राहुकाल* :-
दोपहर 02.02 से 03.41 तक ।
🚦 *दिशाशूल* :-
दक्षिणदिशा –
यदि आवश्यक हो तो दही या जीरा का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें ।
☸ शुभ अंक……………..3
🔯 शुभ रंग…………….पीला
✡ *चौघडिया* :-
प्रात: 05.46 से 07.25 तक शुभ
प्रात: 10.43 से 12.23 तक चंचल
दोप. 12.23 से 02.02 तक लाभ
दोप. 02.02 से 03.41 तक अमृत
सायं 05.20 से 06.59 तक शुभ
सायं 06.59 से 08.20 तक अमृत
रात्रि 08.20 से 09.41 तक चंचल |
📿 *आज का मंत्र* :-
|| ॐ माधवाय नमः ||
📢 *सुभाषितम्* :-
हर्षस्थान सहस्राणि भयस्थान शतानि च ।
दिवसे दिवसे मूढं आविशन्ति न पंडितम् ॥
अर्थात :-
मूर्ख मनुष्य के लिए प्राति दिन हर्ष के सौ कारण होते है तथा दु:ख के लिए सहस्र कारण| परन्तु पंडितों के मन का संतुलन ऐसे छोटे कारणों से नही बिगडता।
🍃 *आरोग्यं* :-
*आंखों की देखभाल एवं घरेलु नुस्खे :-*
*1. आलू -*
आलू आसानी से हर घर में उपलब्ध होता है। कई व्यंजनों के स्वाद को बढ़ाने के अलावा, यह किसी भी प्रकार की आंखों की सूजन को कम करने में भी मदद कर सकता है। इसके प्रभाव के लिए इसकी एंटीमाइक्रोबायल गुण जिम्मेदार हैं। यह आंखों के चारों ओर डार्कनेस को हल्का करता है। इसके लिए आप आलू को छिलकर उसे घिस लीजिए। इसका जूस निकाल लीजिए। फिर कॉटन बॉल को भिगोकर 15 मिनट के लिए अपने आंखों पर रखें। दिन में एक बार जरूर इस उपाय को अपनाएं।
*2. हल्दी -*
आँखों की देखभाल के लिए आप एक गिलास पानी को गर्म कीजिए और उसमें एक चम्मच हल्दी का पाउडर मिलाएं। फिर इसे छानकर रोजाना दो बार आंखे धोयें। आंखें बन्द रखें जिससे हल्दी का पानी अन्दर नहीं जाए और सिकाई भी हो जाए। इससे आंखों की लाली, सूजन, आँखों से पानी गिरना आदि रोग ठीक हो जाते हैं।
*3. खीरा -*
आंखों के घरेलू उपाय में खीरे को सबसे आगे रखा जाता है। आप खीरे की सहायता से आंखों की सुंदरता को बढ़ा सकते हैं। यह एक ज्ञात तथ्य है कि खीरा हमारे शरीर पर कूलिंग प्रभाव डालती है। यह हमारी आंखों पर भी वही प्रभाव डालता है। यह आंखों को शांत है और किसी भी दर्द या जलन को ठीक करता है। यदि आपको डार्क सर्कल या पफ्फी आइज की समस्या है, तो खीरा स्लाइस उन समस्याओं से छुटकारा पाने में मदद करेगी। इसके लिए आप ठंड़े पानी में खीरे की 2 स्लाइस को दो से तीन मिनट के लिए रखें। इसके इसे निकालकर 10 मिनट के लिए आंखों पर रखें। जब आंखों में कोई दिक्कत हो तो आप इस उपाय को अपना सकते हैं।
⚜ *आज का राशिफल* :-
🐏 *राशि फलादेश मेष :-*
वाणी पर नियंत्रण रखें। जोखिम न उठाएं। भूमि व भवन संबंधी योजना बनेगी। रोजगार मिलेगा। धनार्जन होगा।
🐂 *राशि फलादेश वृष :-*
यात्रा मनोरंजक रहेगी। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। प्रमाद न करें।
👫 *राशि फलादेश मिथुन :-*
वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। भागदौड़ रहेगी। विवाद को बढ़ावा न दें। चोट व रोग से बचें।
🦀 *राशि फलादेश कर्क :-*
थोड़े प्रयास से काम बनेंगे। मान-सम्मान मिलेगा व्यवसाय ठीक चलेगा। प्रसन्नता रहेगी।
🦁 *राशि फलादेश सिंह :-*
पुराने संगी साथियों से मुलाकात होगी। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा।
👱🏻‍♀ *राशि फलादेश कन्या :-*
बेरोजगारी दूर होगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। जोखिम न लें। यात्रा लाभदायक रहेगी।
⚖ *राशि फलादेश तुला :-*
मेहमानों पर खर्च होगा। काम बिगड़ सकते हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। अपरिचितों पर विश्वास न करें।
🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-*
डूबी हुई रकम प्राप्त होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। आय के स्रोत मिलेंगे। प्रसन्नता रहेगी।
🏹 *राशि फलादेश धनु :-*
आर्थिक नीति में बदलाव होगा। प्रतिष्ठा वृद्धि होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। भय व पीड़ा बने रहेंगे।
🐊 *राशि फलादेश मकर :-*
अध्यात्म में रुचि रहेगी। कोर्ट व कचहरी में अड़चन दूर होगी। रुके कार्य पूर्ण होंगे। लाभ बढ़ेगा।
🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-*
चोट, चोरी व विवाद आदि से हानि संभव है। कुसंगति से बचें। जोखिम व जमानत के कार्य न करें।
🐋 *राशि फलादेश मीन :-*
रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। राजकीय बाधा दूर होगी। विवेक का प्रयोग लाभ में वृद्धि करेगा।
☯ आज का दिन सभी के लिए मंगलमय हो ।
।। *शुभम भवतु* ।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here