Home Authors Posts by पावर गैलरी डेस्क

पावर गैलरी डेस्क

अमेरिका छह सदस्यीय चुनाव मूल्यांकन प्रतिनिधिमंडल बंगलादेश भेजेगा

America will send six-member election evaluation delegation to Bangladesh
America will send six-member election evaluation delegation to Bangladesh

इंटरनेशनल रिपब्लिकन इंस्टीट्यूट (आईआरआई) और नेशनल डेमोक्रेटिक इंस्टीट्यूट (एनडीआई) अमेरिकी सरकार की फंडिंग से बंगलादेश में एक स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव पूर्व मूल्यांकन मिशन (पीईएएम) भेजेंगे।
अमेरिकी दूतावास के प्रेस अटैची और प्रवक्ता ब्रायन शिलर ने गुरुवार को ढाका में अमेरिकन सेंटर में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल और उनका सहयोगी स्टाफ सात से 13 अक्टूबर तक बंगलादेश का दौरा करेगा।


यह कार्यक्रम बंगलादेश यूएस एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी) के नए मिशन निदेशक रीड एस्क्लिमन के स्वागत के लिए आयोजित किया गया है। अमेरिकी दूतावास के प्रवक्ता ने कहा कि पीईएएम के प्रतिनिधि बांग्लादेश चुनाव आयोग, विभिन्न सरकारी एजेंसियों, राजनीतिक दलों, नागरिक पर्यवेक्षकों, नागरिक समाज और महिला और युवा संगठनों के प्रतिनिधियों से बात करेंगे। प्रतिनिधि स्थानीय और अंतरराष्ट्रीय मीडिया संगठनों और बंगलादेश में विदेशी राजनयिक मिशनों के प्रतिनिधियों से भी बात करेंगे।


यात्रा के अंत में प्रतिनिधिमंडल एक सार्वजनिक बयान जारी करेगा जिसमें वे उल्लेख करेंगे कि क्या उन्हें चुनाव के बारे में कोई चिंता है और व्यावहारिक सिफारिशें प्रदान करेंगे।


अमेरिका लौटने के बाद वे अंतरराष्ट्रीय हितधारकों और नीति निर्माताओं के साथ अपना अनुभव साझा करेंगे।
प्रतिनिधियों का प्राथमिक लक्ष्य बंगलादेश में राष्ट्रीय चुनाव की तैयारी और संदर्भ के बारे में स्वतंत्र और निष्पक्ष जानकारी प्रदान करना होगा। यह इस पर भी अपनी राय देगा कि क्या चुनाव के दिन एक सीमित अंतरराष्ट्रीय चुनाव अवलोकन मिशन भेजा जाना चाहिए।


इससे पहले मई में अमेरिका ने एक नई वीज़ा नीति की घोषणा की थी जिसमें यह घोषणा की गई थी कि जिस किसी को भी वे बंगलादेश में लोकतांत्रिक चुनाव प्रक्रिया को कमजोर करने के लिए ज़िम्मेदार या इसमें शामिल मानते हैं उसे अमेरिकी वीज़ा जारी नहीं किया जाएगा।

Also Read: बाइडेन ने यूक्रेन के लिए नई सैन्य सहायता की घोषणा की

महिला आरक्षण जैसे कानून बनाने के लिए पूर्ण बहुमत की मजबूत सरकार जरूरी: मोदी

A strong government with full majority is necessary to make laws like women's reservation: Modi
A strong government with full majority is necessary to make laws like women's reservation: Modi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नारीशक्ति वंदन अधिनियम को उभरते भारत की लोकतांत्रिक प्रतिबद्धता का प्रतीक करार दिया है और चेताया है कि देश को आगे ले जाने के लिए ऐसे निर्णायक कानून बनाने में सक्षम पूर्ण बहुमत वाली मजबूत सरकार बहुत आवश्यक है।

श्री मोदी ने आज सुबह यहां भाजपा मुख्यालय में आयोजित भाजपा महिला मोर्चा के अभिनंदन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए यी बात कही। श्री मोदी के सुबह भाजपा मुख्यालय में पहुंचने पर बड़ी संख्या में महिला कार्यकर्ताओं ने श्री माेदी का फूल बरसा कर भव्य स्वागत किया।

भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वनती श्रीनिवासन ने प्रधानमंत्री की अगवानी की। पार्टी मुख्यालय मेें केन्द्रीय मंत्रिमंडल की सभी महिला मंत्री और पार्टी की सभी महिला सांसद भी उपस्थित थीं। कार्यक्रम में महिला कार्यकर्ताओं ने श्री मोदी को एक बड़ी सी माला पहना कर उनका अभिनंदन किया। मंच पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी भी मौजूद थीं।

प्रधानमंत्री ने नारी शक्ति वंदन-अभिनंदन कार्यक्रम में उपस्थित महिला वृंद को संबोधित करते महिला आरक्षण विधेयक के सर्वसम्मति से पारित होने को एक ऐतिहासिक क्षण बताया और कहा कि यह देश के लिए एक विशेष क्षण, भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए एक विशेष दिन है।

उन्होंने कहा, “मैं आज देश की हर माता को, बहन को, बेटी को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। कल और परसो हम सबने एक नया इतिहास बनते देखा है और हम सबका सौभाग्य है कि ये इतिहास बनाने का अवसर कोटि-कोटि जनों ने हमें दिया है। आने वाली अनेकों पीढ़ियों तक इस निर्णय और इस दिवस की चर्चा होगी। मैं पूरे देश को ‘नारी शक्ति वंदन अधिनियम’ संसद के दोनों सदनों में भारी बहुमत से पारित होने की बहुत बहुत बधाई देता हूं।”

श्री मोदी ने कहा, “कभी-कभी किसी निर्णय में देश के भाग्य को बदलने की क्षमता होती है। आज हम सभी ऐसे ही एक निर्णय के साक्षी बने हैं। ….संसद के दोनों सदनों द्वारा ‘नारी शक्ति वंदन अधिनियम’ रिकॉर्ड मतों से पारित किया जा चुका है। जिस बात का देश को पिछले कई दशकों से इंतजार था, वो सपना अब सच हुआ है। आज हर नारी का आत्मविश्वास आसमान छू रहा है। पूरे देश की माताएं, बहनें और बेटियां आज खुशी मना रही हैं, हम सबको आशीर्वाद दे रही हैं।”

उन्होंने कहा, “कोटि-कोटि माताओं, बहनों के सपने को पूरा करने का सौभाग्य हमारी भाजपा सरकार को मिला है। इसलिए राष्ट्र को सर्वप्रथम मानने वाली पार्टी के रूप में, भाजपा कार्यकर्ता के रूप में, एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में ये हमारे लिए गर्व का विषय है।”

श्री मोदी ने इस बात पर ज़ोर दिया कि नारी शक्ति वंदन अधिनियम कोई सामान्य कानून नहीं है। ये नए भारत की नई लोकतांत्रिक प्रतिबद्धता का उद्घोष है। ये अमृतकाल में सबका प्रयास से विकसित भारत के निर्माण की तरफ बढ़ा कदम है। लोकतंत्र में महिलाओं की भागीदारी के लिए, इस कानून के लिए तीन दशक से प्रयास कर रही थी। ये हमारी प्रतिबद्धता थी। इसे हमने पूरा करके दिखाया है।

उन्होंने कहा कि यह कानून उभरते भारत की नवीकृत लोकतांत्रिक प्रतिबद्धता का प्रतीक है। यह महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास के एक नए युग की शुरुआत करने की उनकी प्रतिबद्धता का एक ठोस प्रमाण है, जिसका लक्ष्य महिलाओं के जीवन स्तर और जीवन की समग्र गुणवत्ता को बढ़ाना है।

प्रधानमंत्री ने कहा, “भारत को विकसित बनाने के लिए, आज भारत नारी शक्ति को खुला आसमान दे रहा है। आज देश, माताओं-बहनों-बेटियों के सामने आने वाली हर अड़चन को दूर कर रहा है। बीते नौ वर्षों में हमने माताओं-बहनों से जुड़ी हर बंदिश को तोड़ने का प्रयास किया है। हमारी सरकार ने एक के बाद एक ऐसी योजनाएं बनाई, ऐसे कार्यक्रम शुरू किए हैं, जिससे हमारी बहनों को सम्मान, सुविधा, सुरक्षा और समृद्धि का जीवन मिले।”

महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए अपनी सरकार द्वारा की गई विभिन्न पहलों पर प्रकाश डालते हुए श्री मोदी ने कहा, “हमारी सरकार ने हमारी बहनों के जीवन को बेहतर बनाने, उन्हें सम्मान, सुविधा, सुरक्षा और समृद्धि प्रदान करने के लिए लगातार योजनाएं शुरू की हैं और कार्यक्रम शुरू किए हैं, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि गर्भवती महिलाओं को लाभ मिले। हमने पौष्टिक भोजन के लिए मातृ वंदना योजना शुरू की, महिलाओं के बैंक खातों में सीधे धनराशि जमा की।” उन्होंने कहा, “अपनी बेटियों की शिक्षा का समर्थन करने के लिए, हमने सुकन्या समृद्धि योजना में ब्याज दर बढ़ा दी है। हमने खाना पकाने की कठिनाई को खत्म करने के लिए उज्ज्वला गैस कनेक्शन प्रदान किए। साथ ही, पानी लाने के बोझ को कम करने के लिए, हमने हर घर में पाइप से पानी पहुंचाने की योजना शुरू की।”

श्री मोदी ने कहा, “हमारी बेटियों को अंधेरे में न रहना पड़े, यह सुनिश्चित करने के लिए हमने सौभाग्य योजना के माध्यम से मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया। हमने उन्हें आयुष्मान भारत के माध्यम से 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज भी प्रदान किया। घर की संपत्ति पर बेटियों का अधिकार हो, इसके लिए हमने पीएम आवास योजना के घर उनके नाम किए हैं। इस साल, लाल किले से, मैंने देश में 2 करोड़ लखपति दीदी बनाने और स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को ड्रोन प्रदान करने की योजना की भी घोषणा की है, ”

श्री मोदी ने यह भी याद दिलाया कि नारी शक्ति वंदन अधिनियम का संसद दोनों सदनों से पारित होना, इस बात का भी साक्षी है कि जब पूर्ण बहुमत वाली स्थिर सरकार होती है, तो देश कैसे बड़े फैसले लेता है, बड़े पड़ावों को पार करता है। पूर्ण बहुमत वाली स्थिर सरकार है तो ‘नारी शक्ति वंदन अधिनियम’ एक सच्चाई बन गया है। उन्होंने कहा, “महिला आरक्षण के प्रयास दशकों तक चले, लेकिन इसे हकीकत किसने बनाया? मोदी ने नहीं, बल्कि आपने, उन करोड़ों लोगों ने, जिन्होंने पूर्ण बहुमत के साथ एक स्थिर सरकार बनाई।” उन्होंने कहा, “इस कानून ने फिर साबित किया है कि देश को आगे ले जाने के लिए पूर्ण बहुमत वाली मजबूत और निर्णायक सरकार बहुत आवश्यक है।”

विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा, “भाजपा ने तीन दशकों में लोकतंत्र में महिलाओं की सक्रिय भागीदारी के लिए इस कानून का अथक प्रयास किया। यह एक गंभीर प्रतिबद्धता थी, और हमने अब इसे पूरा कर लिया है। कई लंबे समय के बावजूद- रास्ते में आने वाली बाधाओं, दशकों पुरानी चुनौतियों सहित, हमारे अटूट समर्पण और पारदर्शी प्रयासों के परिणाम मिले हैं। यह एक उल्लेखनीय उपलब्धि है कि इस कानून को सदन में इतना व्यापक समर्थन मिला।”

उन्होंने कहा, “हमने हर स्तर पर महिलाओं के सर्वोत्तम हित में फैसलों को प्राथमिकता दी, राजनीतिक हितों को महिला आरक्षण में बाधा बनने से रोका। अतीत में, जब भी यह विधेयक संसद में पेश किया जाता था तो अक्सर हंगामे का सामना करना पड़ता था।”

श्री मोदी ने उन उदाहरणों का जिक्र किया जहां महिलाओं के नेतृत्व और उनकी क्षमताओं से ठोस परिणाम मिले। उन्होंने गुजरात में समरस ग्राम पंचायत का उदाहरण दिया, जहां महिला नेताओं ने गांव के भीतर सकारात्मक बदलाव लाया। उन्होंने टिप्पणी की, “आप हर जगह महिलाओं के बीच सकारात्मक परिवर्तन और संसाधन अनुकूलन की दृष्टि के प्रति इस झुकाव को देख सकते हैं।” उन्होंने मध्य प्रदेश के शहडोल की एक घटना का जिक्र किया, जहां उनकी मुलाकात उन आदिवासी महिलाओं से हुई जो लखपति दीदी बन गईं।

उन्होंने कहा, ‘आज परिवार से लेकर पंचायत तक, अर्थव्यवस्था से लेकर शिक्षा और उद्यमिता तक हमारी बहनें और बेटियां हर क्षेत्र में अभूतपूर्व काम कर रही हैं। भारत को चाँद तक ले जाने में भी महिलाओं ने बहुत बड़ी भूमिका निभाई है।”

श्री मोदी ने कहा, ‘नए और आधुनिक संसद भवन के उद्घाटन के साथ-साथ इसमें आधी आबादी का प्रतिनिधित्व बढ़ने से नई व्यवस्थाएं और नवीन एवं रचनात्मक संसदीय परंपराएँ स्थापित का मार्ग प्रशस्त होगा। मुझे विश्वास है कि हमारे देश की नारी शक्ति भी ऐसा करेगी।”

Also Read: महिला आरक्षण लागू होने के बाद देश का मिजाज बदलेगा : मोदी

11 अक्टूबर 2024 को रिलीज होगी हिमेश रेश्मिया की फिल्म बैडएस रवि कुमार

Himesh Reshammiya's film Badass Ravi Kumar will be released on 11 October 2024.
Himesh Reshammiya's film Badass Ravi Kumar will be released on 11 October 2024.

बॉलीवुड अभिनेता-गायक हिमेश रेश्मिया की फिल्म बैडएस रवि कुमार 11 अक्टूबर 2024 को रिलीज होगी।
काफी समय पहले हिमेश रेशमिया स्टारर फिल्म ‘बैडएस रवि कुमार’ का टीजर रिलीज हुआ था।अब ‘बैडएस रवि कुमार’ की रिलीज डेट अनाउंस हो गयी है। हिमेश की यह फिल्म साल 2014 में आई उनकी द एक्सपोज मूवी का हिस्सा है,जिसमें रवि कुमार के किरदार से हिमेश ने प्रभावित किया था।


बॉलीवुड फिल्म समीक्षक तरण आदर्श ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम हैंडल पर ‘बैडएस रवि कुमार’ की रिलीज डेट को लेकर लेटेस्ट अपडेट दिया है।तरण ने इंस्टा पोस्ट के जरिए ये बताया है,फिल्म बैडएस रवि कुमार दशहरा के उत्सव को मद्देनजर रखते हुए अगले साल 11 अक्टूबर 2024 को सिनेमाघरों में रिलीज की जाएगी। इस फिल्म खलनायक के तौर पर प्रभू देवा लीड रोल में मौजूद हैं।

Also Read: हरिहरन के बेटे करण की डेब्यू फिल्म ‘प्यार है तो है’ 20 अक्टूबर को होगी रिलीज

फिल्मों की कमाई का बैंचमार्क 1,000 करोड़ रुपए होना चाहिए : सलमान खान

The benchmark for films' earnings should be Rs 1,000 crore: Salman Khan
The benchmark for films' earnings should be Rs 1,000 crore: Salman Khan

बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान का कहना है कि फिल्मों का 100 करोड़ रुपए कमाना अब कोई बड़ी बात नहीं है, फिल्मों की कमाई का बैंचमार्क 1,000 करोड़ रुपए होना चाहिए।


सलमान खान ने फिल्मों की ताबड़तोड़ कमाई के बारे में बात की और कहा कि अब फिल्मों के लिए बॉक्स ऑफिस पर 100 करोड़ रुपए के क्लब में जाना पुरानी बात हो गई है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि नया बेंचमार्क कितने का होना चाहिए।


सलमान खान ने कहा, मुझे लगता है कि यह 100 करोड़ रुपए कमाने का आंकड़ा अब बहुत पीछे रह गया है। पंजाबी, हिंदी या कोई भी फिल्म इंडस्ट्री हो, फिल्में 400-600 करोड़ रुपए से ज्यादा की कमाई कर रही हैं। यहां तक मराठी फिल्में भी इतनी ही कमाई कर रही हैं। असल में, लोग एक बार फिर सिनेमाघरों में जा रहे हैं। मुझे लगता है कि 100 करोड़ रुपए कमाना कोई बड़ी बात नहीं है। अब फिल्मों की कमाई का बैंचमार्क 1,000 करोड़ रुपए होना चाहिए।’

Also Read: हरिहरन के बेटे करण की डेब्यू फिल्म ‘प्यार है तो है’ 20 अक्टूबर को होगी रिलीज

अक्टूबर में दलाई लामा सिक्किम के दौरे पर आएंगेः तमांग

Dalai Lama will visit Sikkim in October: Tamang
Dalai Lama will visit Sikkim in October: Tamang

तिब्बतियों के 14वें आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा सिक्किम के मुख्यमंत्री पीएस तमांग के निमंत्रण के बाद अगले महीने राज्य के दौरे पर आएंगे।

श्री तमांग ने गुरुवार को धर्मशाला में तिब्बती आध्यात्मिक नेता से मुलाकात के दौरान उन्हें तिब्बत आने का निमंत्रण दिया था।

श्री तमांग ने कल नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित धर्मगुरु दलाई लामा से मुलाकात की बात करते हुए कहा कि 21 सितंबर को दुनिया भर में अंतर्राष्ट्रीय शांति दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि बैठक के दौरान उन्होंने तिब्बती आध्यात्मिक नेता को अगले महीने राज्य का दौरा करने का औपचारिक निमंत्रण दिया है।

मुख्यमंत्री ने गुरुवार को इसकी पुष्टि की कि धर्मगुरू दलाई लामा ने अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में सिक्किम आने का उनका निमंत्रण स्वीकार कर लिया है। तिब्बती नेता के साथ बातचीत के दौरान अपनी भावनाओं का वर्णन करते हुए, श्री तमांग ने कहा, “परम पावन की शुभ उपस्थिति में, मुझे दिव्य शांति और आनंद की अनुभूति हुई, जो वास्तव में मेरे लिए एक बहुत बड़ा अनुभव था।”

श्री तमांग ने कहा, “सिक्किम के लोगों की ओर से, मैं दलाई लामा के अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करता हूं अौर अपनी हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं कि भगवान हमेशा हम पर अपना आशीर्वाद बनाए रखें। मैं परम पावन का भव्य स्वागत करने के लिए सिक्किम के लोगों के साथ खड़ा हूं ताकि धर्मगुरु हमें सदैव आशीर्वाद प्रदान करें और हमारा मार्गदर्शन करें।”

धर्मशाला की अपनी यात्रा के दौरान श्री तमांग के साथ धार्मिक मामलों के मंत्री सोनम लामा, मुख्य सचिव विजय भूषण पाठक, मुख्यमंत्री कार्यालय के सचिव शंकर ढकाल, स्थानिक आयुक्त (रेजिडेंट कमिश्नर) एके चंद और अन्य संबंधित धर्माधिकारी भी उपस्थित रहे।

Also Read: घरेलू विमान यात्रियों की संख्या में पिछले वर्ष की तुलना में 38.27 प्रतिशत की वृद्धि

चीन हमेशा विकासशील देशों के बड़े परिवार का सदस्य रहेगा: हान झेंग

China will always be a member of the big family of developing countries: Han Zheng
China will always be a member of the big family of developing countries: Han Zheng

चीन के उपराष्ट्रपति हान झेंग ने कहा कि उनका देश हमेशा विकासशील देशों के बड़े परिवार का सदस्य बना रहेगा तथा वह एक स्वतंत्र विदेश नीति, अपनी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।

श्री झेंग ने गुरुवार को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के 78वें सत्र की आम चर्चा में यह बात कही। उन्होंने कहा कि चीन अपनी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए हमेशा तैयार रहेगा है और विकासशील देशों के बड़े परिवार का सदस्य बना रहेगा।

Also Read: बाइडेन ने यूक्रेन के लिए नई सैन्य सहायता की घोषणा की

शेयर बाजार में चौथे दिन भी गिरावट

Stock market declined for the fourth day
Stock market declined for the fourth day

वैश्विक बाजार के मिलेजुले रुख के बीच स्थानीय स्तर पर हेल्थकेयर, कमोडिटीज, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स और रियल्टी समेत चौदह समूहों में हुई बिकवाली से आज शेयर बाजार लगातार चौथे दिन भी गिरावट पर रहा।

बीएसई का संवेद सूचकांक सेंसेक्स 221.09 अंक लुढ़ककर 66009.15 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 68.10 अंक की गिरावट लेकर 19674.25 अंक रहा गया। बीएसई की दिग्गज कंपनियों की तरह मझौली कंपनियों में बिकवाली का दबाव रहा लेकिन छोटी कंपनियों में लिवाली हुई। इससे मिडकैप 0.14 प्रतिशत टूटकर 31,948.76 अंक पर आ गया जबकि स्मॉलकैप 0.04 प्रतिशत की बढ़त के साथ 37,057.48 अंक पर पहुंच गया।

इस दौरान बीएसई में कुल 3781 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1857 में गिरावट जबकि 1777 में तेजी रही वहीं 147 में कोई बदलाव नहीं हुआ। इसी तरह निफ्टी की 30 कंपनियां बिकवाली के दबाव में रही जबकि शेष 20 में लिवाली हुई।

Also Read : ईवीएम सोर्स कोड ऑडिट की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने की खारिज

जीतू बने प्रचार अभियान समिति के सह अध्यक्ष

Jeetu becomes co-chairman of campaign committee
Jeetu becomes co-chairman of campaign committee

मध्यप्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पूर्व मंत्री जीतू पटवारी को प्रदेश चुनाव प्रचार अभियान समिति का सह अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। प्रदेश कांग्रेस के अनुसार इस संबंध में आज केंद्रीय नेतृत्व ने आदेश जारी कर दिए।
श्री पटवारी इंदौर के पास राऊ विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और वे कमलनाथ सरकार में उच्च शिक्षा एवं खेल विभाग के मंत्री थे।

Also Read: महिला आरक्षण, ओबीसी को लेकर राहुल ने साधा मोदी पर निशाना

23 सितम्बर को फ़िल्मची भोजपुरी टीवी चैनल पर होगा फिल्म फरिश्ता का वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर

The world television premiere of the film Farishta will be held on Filmichi Bhojpuri TV channel on 23 September.
The world television premiere of the film Farishta will be held on Filmichi Bhojpuri TV channel on 23 September.

भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव की फिल्म फरिश्ता का वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर 23 सितम्बर को फ़िल्मची भोजपुरी टीवी चैनल पर होगा।


लालबाबू पंडित निर्देशित फिल्म फरिश्ता का वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर 23 सितम्बर को फ़िल्मची भोजपुरी टीवी चैनल पर शाम 06 बजे से किया जाएगा। फ़िल्म फरिश्ता में खेसारी लाल यादव के साथ साथ अमित शुक्ला मेघा श्री, पूजा गांगुली, श्रद्धा नील, प्रकाश जैश, सोनू पांडेय , रिंकू भारती , खुशबू यादव ने भी अभिनय किया हुआ है । इस फिल्म के निर्माता एस एस रेड्डी है।


फ़िल्म फरिश्ता एक परिवार की कहानी है जिसमें माता पिता को ज़िन्दगी के आखिरी पड़ाव में एक पागल बेटा ही सहारा बनता है , जिसे अपनी पूरी जिंदगी में पिता द्वारा उपेक्षित नजरों से ही देखा जाता है । फ़िल्म के वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर को लेकर निर्देशक लालबाबू पंडित ने काफी उम्मीद जताई है , उनका कहना है कि फ़िल्म ने दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित करने का काम किया है और उम्मीद बनती है कि टेलीविजन प्रीमियर में भी कुछ ऐसा ही होगा । यह फ़िल्म एक बेहतरीन स्कोप के साथ बनाई गई है और दर्शकों का प्यार इस फ़िल्म को भरपूर मिला है ।

Also Read: 29 सितंबर को रिलीज होगी इश्‍वाक सिंह की फिल्म तुमसे ना हो पाएगा

महिला आरक्षण में ओबीसी प्रतिनिधित्व के लिए उमा ने बुलाई बैठक

Uma called a meeting for OBC representation in women's reservation.
Uma called a meeting for OBC representation in women's reservation.

मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने महिला आरक्षण संबंधित विधेयक में अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण के मामले पर विचार-विमर्श के लिए इस वर्ग से जुड़े लोगों की कल एक बैठक बुलाई है।

सुश्री भारती ने सोशल मीडिया पर स्वयं इस बारे में जानकारी दी।

उन्होंने एक्स पर पोस्ट करते हुए कहा कि राज्यसभा में भी महिला आरक्षण बिल पूर्ण बहुमत से पारित हो गया। अब यदि पिछड़े वर्गों को स्थान देने के लिए एक और संशोधन का मार्ग निकालना है, इसलिए भोपाल शहर एवं उसके आसपास के पिछड़े वर्ग के प्रमुख नेताओं के साथ विचार विमर्श हुआ। इसके बाद 23 सितंबर को एक और बड़ी बैठक बुलाने का फैसला हुआ।

अपनी एक अन्य पोस्ट में उन्होंने इस मामले को लेकर कांग्रेस पर भी हमला बोला।

उन्होंने कहा कि 1996 में पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने महिला आरक्षण बिल जब पेश किया तो उन्होंने (सुश्री भारती ने) इसमें ओबीसी आरक्षण प्रस्तावित किया। श्री देवगौड़ा पिछड़े वर्ग के थे एवं उनके हिमायती थे। उस दिन सदन में कांग्रेस और भाजपा बिना ओबीसी आरक्षण के ही इसको सदन में मंजूर करने के लिए एक मत थी एवं समर्थन के लिए तैयार थी। श्री देवगौड़ा ने इसको विशेष कमेटी को भेजा और यह बिल 27 साल लंबित रहा। अब अचानक कांग्रेस ओबीसी आरक्षण की बात करने लगी है तो जब मनमोहन सिंह सरकार थी तब इसको लागू क्यों नहीं किया।

Also Read: कमलनाथ ने ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ के बहाने बोला भाजपा संगठन पर हमला