Breaking News
Home / breaking news / मोदी ने केरल के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया हवाई सर्वेक्षण,500 करोड़ रुपये की दी आर्थिक मदद

मोदी ने केरल के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया हवाई सर्वेक्षण,500 करोड़ रुपये की दी आर्थिक मदद

केरल में हुई भयंकर बारिश और बाढ़ ने अबतक कई लोगों की जान ले ली है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। साथ ही प्रधानमंत्री ने केरल के मुख्यमंत्री विजयन के साथ हालातों पर बैठक में चर्चा भी की। केरल के हालातों को लेकर कांग्रेस पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि केरल बाढ़ को बिना देरी किए राष्‍ट्रीय आपदा घोषित किया जाना चाहिए। वहीं, केंद्र ने केरल के लिए तुरंत राहत के तौर पर 500 करोड़ रुपये जारी किए हैं। हालांकि केरल सरकार ने केंद्र से 2000 करोड़ रुपये मांगे थे।

केरल की बदहाल स्थिति को देखकर कहा जा सकता है कि राज्य सदी की सबसे भीषण बारिश और बाढ़ का सामना कर रहा है। इस बीच भारतीय सेना का स्पेशल एयरक्राफ्ट खाने और मूलभूत चीजों के साथ तिरुवनंनतपुरम के बाढ़ प्रभावित इलाकों में पहुंचा है।

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा, ‘प्रधानमंत्री ने बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने के लिए हवाई सर्वेक्षण किया। खराब मौसम के कारण हमारा हेलीकॉप्टर कुछ स्थानों पर नहीं जा सका। मोदी जी ने 500 करोड़ रुपये और सभी संभावित सहायता की घोषणा की है, जिसके लिए हमने उनका धन्यवाद करते है और हमने अधिक हेलीकॉप्टरों व नौकाओं की मांग की है।’

मौसम विभाग की अधिकारी डॉ.एस देवी ने बताया, 16 अगस्त तक केरल में 619.5 एमएम बारिश हुई है। आमतौर पर यह 244.1 एमएम होनी चाहिए। फिलहाल, बारिश की तीव्रता में कमी आई है। लेकिन दो दिनों तक भारी बारिश जारी रहेगी।’

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल का बचाव अभियान

इस बीच राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के साथ ही सैनिकों ने फंसे लोगों को बचाने के लिए शनिवार सुबह से बचाव अभियान तेज कर दिया है । पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन के कारण सड़क जाम हो रहे हैं। कई गांव टापू में तब्दील हो गए हैं। इस बीच भारतीय नौसेना ने अपने बयान में कहा कि बेहद ही चुनौतीपूर्ण स्थितियों में कैप्टन पी राजकुमार (शौर्य चक्र) ने SeaKing 42B हेलीकॉप्टर की मदद से केरल में बाढ़ में फंसे 26 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला।

About admin

Check Also

सुप्रीम कोर्ट के आदेश से विधानसभा चुनाव में मुश्किल हो सकती है शिवराज सिंह चौहान की राह

एट्रोसिटी एक्ट के खिलाफ चल रहे सवर्ण आंदोलन के बीच पदोन्नति में आरक्षण के मुद्दे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *