Breaking News
Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / माया की शर्तों के आगे झुकें अखिलेश, हो गया सीटों का बंटवारा

माया की शर्तों के आगे झुकें अखिलेश, हो गया सीटों का बंटवारा

लखनऊ। हाल ही में अखिलेश यादव ने यह बयान दिया था कि किसी भी हाल में वह बीजेपी के विजय रथ को रोक कर रहेंगे। इसके लिए वह बसपा के जूनियर बनने तक को तैयार हो गए हैंं। फिलहाल दोनों दलों के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर अभी चर्चा जारी है। अब आगामी लोकसभा चुनाव में देखना यह है कि ये बुआ-बबुआ की जोड़ी बीजेपी पर कितनी भारी पड़ती है। वैसे तो बीजेपी के गिरते ग्राफ ने विपक्षियों के हौंसले और भी ज्यादा बुलंद कर दिया है। जिसके बाद उसकी हार की संभावनाएं ज्यादा नज़र आ रही है। साथ ही सबसे दिलचस्प बात यह है कि कांग्रेस को किनारे का रास्ता दिखाकर आरएलडी भी महागठबंधन में शामिल होने वाली है।

दोनों दलों ने सीटों के बंटवारे को लेकर भावी गणित लगाई है। जिसके बाद कुछ परिणाम ऐसे हो सकते हैं कि 2019 में यूपी की 40 लोकसभा सीटों पर बसपा चुनाव लड़ेगी, जबकि 35 सीटों पर समाजवादी पार्टी अपने उम्मीदवार उतारेगी। इसके अलावा 3 सीटें आरएलडी को दी जा सकती हैं। जिसमें शामिल बागपत, कैराना, मथुरा की सीटें आरएलडी के खाते में गई है। बात करें कांग्रेस की तो कहा जा रहा है हो चुके फूलपुर, गोरखपुर में कुछ खास वोट नहीं मिल पाने के कारण पार्टी ने यह फैसला लिया है। रणनीति बनाते हुए बसपा और सपा ने यह फैसला लिया कि कांग्रेस को गठबंधन में शामिल करने से कोई फायदा न होगा।

बात करें यूपी के मतदाताओं की तो एक बड़ा तबका ऐसा है, जो अलग-अलग चुनावों में अलग-अलग राजनीतिक दलों को वोट देता है। इसका एक उदाहरण यह है कि 2014 में 25 फीसदी मतदाता ऐसे थे, जिन्होंने 2009 की अपनी पार्टी के बदले किसी दूसरी पार्टी को मत दिया था।




Source link

About admin

Check Also

सहारनपुर में दिनदहाड़े बेखौफ बदमाशों ने घर में घुसकर की लाखों की लूट

लखनऊ। यूपी में बदमाश इतने बेख़ौफ़ हो गए हैं कि दिन दहाड़े …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *