Breaking News
Home / नौकर शाह / मनीष सिंह की सफलता का राज
मनीष सिंह की सफलता का राज इंदौर देश के सभी शहरों में सफाई में पहले नंबर पर आया है। वैसे तो टॉप टेन में भोपाल भी शामिल है, लेकिन इं
मनीष सिंह की सफलता का राज इंदौर देश के सभी शहरों में सफाई में पहले नंबर पर आया है। वैसे तो टॉप टेन में भोपाल भी शामिल है, लेकिन इं

मनीष सिंह की सफलता का राज

मनीष सिंह की सफलता का राज

इंदौर देश के सभी शहरों में सफाई में पहले नंबर पर आया है। वैसे तो टॉप टेन में भोपाल भी शामिल है, लेकिन इंदौर को नंबर वन पर आने का तमगा मिला है। भोपाल और इंदौर दोनों शहरों के नंबर एक और नंबर दो पर रहने से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी गदगद हैं। इंदौर में नगर निगम के कमिश्नर मनीष सिंह हैं।

वे राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं और अभी तक आईएएस में पदोन्नति नहीं हुई है। शिवराज सिंह चौहान की सरकार ने जब आईएएस अधिकारियों को नगर-निगम में आयुक्त बनाने का फैसला लिया था उस वक्त इंदौर में ही खुद इस फैसले को लागू नहीं कर पाए। मनीष सिंह के पास भोपाल नगर-निगम के आयुक्त के तौर पर काम करने का अनुभव था, इस कारण उन्हें इंदौर भेजा गया।

उनकी इंदौर में पदस्थापना कराने में आईएएस अधिकारी इकबाल सिंह बैंस की भूमिका काफी महत्वपूर्ण रही थीं। मनीष सिंह दबाव में न आने वाले अधिकारी माने जाते हैं। इंदौर प्रदेश की औद्योगिक राजधानी है और वहां कई रसूखदार लोग हैं, लेकिन अच्छी बात यह है कि सारे लोग इंदौर शहर के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं। चाहे वह सड़क चौड़ीकरण का मामला और या फिर सफाई का। इंदौरियों के इस भाव को मनीष सिंह ने समझा और सफाई में शहर को नंबर एक बनाने में जुट गए। अब प्रशासनिक गलियारों में चर्चा हो रही है कि आईएएस छवि भारद्वाज पर डिप्टी कलेक्टर मनीष सिंह भारी पड़ गए।

About admin

Check Also

नरेंद्र मोदी की सरकार को चार साल पूरे होते ही, चुनावी मूड में आयी बीजेपी

भारतीय जनता पार्टी नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार शनिवार को अपने कार्यकाल के चार साल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *