Breaking News
Home / Uncategorized / मुस्लिम कार सेवकों की ”राम राज्य” नीति
मुस्लिम कारसेवक मंच के कार्यकर्ता ईंटों से भरा ट्रक लेकर श्रीराम के मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या पहुंचे। मुस्लिम कारसेवक जुलूस की शक्ल में सड़क पर ‘मुसलमानो
मुस्लिम कारसेवक मंच के कार्यकर्ता ईंटों से भरा ट्रक लेकर श्रीराम के मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या पहुंचे। मुस्लिम कारसेवक जुलूस की शक्ल में सड़क पर ‘मुसलमानो

मुस्लिम कार सेवकों की ”राम राज्य” नीति

अयोध्या राम मंदिर निर्माण के लिए मुस्लिम मंच भी सामने आ गया है। लम्बे समय से चले आ रहे अयोध्या राम मंदिर विवाद में एक नया मोड़ आया है।  गुरुवार की शाम अयोध्या में एक अलग तरह का नजारा दिखाई दिया मुस्लिम कारसेवक मंच के कार्यकर्ता ईंटों से भरा ट्रक लेकर श्रीराम के मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या पहुंचे मुस्लिम कारसेवक जुलूस की शक्ल में सड़क पर ‘मुसलमानों हक और ईमान के साथ आओ, श्रीराम मंदिर का निर्माण कराओ’ के नारे लगाने लगे हालांकि, राम मंदिर निर्माण के लिए 3000 ईंटें लेकर अधिगृहित परिसर में विराजमान रामलला का दर्शन करने जा रहे जत्थे को पुलिस ने रोक दिया

खत्म होगी नफरत की खाई 

मुस्लिम कार सेवकों ने अयोध्या में स्थानीय लोगों के साथ मुलाकात कर जय श्री राम के नारे लगाए। मुस्लिम कारसेवक के राष्ट्रीय अध्यक्ष आज़म खान ने कहा कि राम मंदिर निर्माण मुस्लिम समाज का मकसद है अब राम लाल टेंट में नहीं रहेंगे। मंदिर निर्माण से देश की तरक्की होगी और नफरत की खाई खत्म होगी। मुस्लिम कारसेवकों में लगभग 50 से ज्यादा मुस्लिम अयोध्या पहुंचे।
 

मुस्लिम कार सेवा शुरू

 
अयोध्या श्रीराम जन्मभूमि पर विराजमान रामलला पर भव्य मंदिर निर्माण के लिए लखनऊ गोरखपुर बस्ती से पहुंचे मुस्लिम समाज के लोगों ने एक संदेश देते हुए कहा कि अब अयोध्या में श्रीराम लला  त्रिपाल  में नहीं रहेंगे और उनके लिए भव्य मंदिर निर्माण किया जाएगा। श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य सेवा मुस्लिम मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष आज़म खान ने मंदिर निर्माण पर मुस्लिम समाज की तरफ से प्रतिज्ञा देते हुए कहा की भगवान राम में मुस्लिमों की आस्था है जिसे मंदिर निर्माण के लिए और मुस्लिम समाज को आवाहन किया जाएगा।
 

टेंट में नहीं रहेंगे भगवान राम लला 

मुस्लिम समाज ने अयोध्या पहुंचकर कहा की लोग ए.सी. में बैठे हैं और भगवान राम टेंट में रह रहे हैं ऐसे में भगवान राम को टेंट में नहीं रखा जाएगा साथ ही मुस्लिमों का कहना है कि मुस्लिम समाज अब जाग गया है। नफरत की खाई को खत्म करते हुए अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर निर्माण कराया जाएगा।
 
 इतना ही नहीं मां भव्य मंदिर निर्माण के लिए मुस्लिम कार सेवक एक तरफ पत्थर भी साथ लेकर आए थे। हालांकि जब इस बात की जानकारी पुलिस को हुई तो उन्होंने मुस्लिम समाज के लोगों को समझा बुझा कर वापस कर दिया।

श्रीराम मंदिर निर्माण मुस्लिम कारसेवक मंच के सदस्य 50 से अधिक संख्या में अयोध्या पहुंचे  वहां अयोध्या वासियों से मुलाकात की।गुरुवार शाम 6 बजे अयोध्या पहुंचे। मुस्लिम कारसेवकों ने भव्य राम मंदिर निर्माण का संकल्प लेते हुए जय श्रीराम के नारे लगाए। मंच के अध्यक्ष आजम खान ने बताया कि हम लखनऊ से आ रहे हैं। हमारा मकसद राम मंदिर निर्माण है। कोतवाल अरविंद कुमार पांडेय ने बताया कि मुस्लिम मंच के सदस्य बस्ती, महाराजगंज, गोरखपुर, लखनऊ आदि जगहों से आए थे।

आजम खान ने कहा कि हम मंदिर निर्माण में अपना सहयोग ईंटों के माध्यम से करना चाहते थे, लेकिन मंदिर बंद होने की बात इनको बताई गई तो इन लोगों ने वीएचपी के लोगों से संपर्क साधा। उन ईंटों को वहां ले जाकर जमा करने की बात कह रहे हैं।

About Dinesh Gupta

Check Also

नरेंद्र मोदी की सरकार को चार साल पूरे होते ही, चुनावी मूड में आयी बीजेपी

भारतीय जनता पार्टी नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार शनिवार को अपने कार्यकाल के चार साल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *